new hindi kavita,2022, सबसे अच्छी कविता प्रेम

Spread the love

new hindi kavita,2022, सबसे अच्छी कविता प्रेम 
मसाने के बिना मैंने दी आग को नमन,
आज खुद को नमन करूंगा
मैं कभी दुख का दर्द नहीं देख सकता
, रोने से मेरी आंखें सूज जाती हैं
चाह कर भी छुड़वा नहीं सकता
, ये पहले जिद कैसे हो रही है
मैं एक इंसान हूं, मैं एक इंसान की मदद नहीं कर सकता
एक बरगद का पेड़ खुद को खाद नहीं दे सकता, उसकी
मूल शाखाएं सभी काट दी जाती हैं।new hindi kavita

Fake Relatives Quotes In hindi

कुछ सफेद बाल प्रिये! मैंने आज तुम्हें देखा,
यह अफ़सोस की बात थी, कितने साल खो गए!
थोड़ा संघर्ष करते हुए , थोड़ा संघर्ष
करते हुए हमने कितने सपने देखे !
कितनी जगह और कितनी छुट्टियां?
तैरती हुई आँखों से कितने विकार धुल गए!
आज से सारे लम्हों को भर दूं
तेरी खुशबू से, वक्त की ग़ज़लों को किसने देखा?

श्री दामोदर के गुण गाकर
कोई दुखी नहीं होता..
श्री दामोदर के गुण गाते हुए…new hindi kavita

श्री दामोदर
के गुण गाते, दुख नहीं,
दामोदर के गुण गाते…new hindi kavita

new hindi kavita, सबसे अच्छी कविता प्रेम

दामोदर के गीत गाते हुए सदा
शामलियो ने संमुख के सामने सरेंडर किया …
मूर्ख मूर्ख घूम रहा है…हो…जी…
हरि का मतलब नहीं जानता…(2)
याद आते ही आता है.. याद के तुरंत बाद
परी
पुराण ब्रह्म रे आता है..
दामोदर के गीत गाते हुए…
श्री दामोदर की स्तुति करने वाले व्यक्ति को
कभी
दुखी नहीं होना चाहिए।new hindi kavita

सदा शामालियो ने सनमुख के सामने आत्मसमर्पण कर दिया और उन्हें दामोदर की स्तुति गाते हुए
देखा …
अंतिम छवियों को चलाएं… जी.. जी। जी ..
नित नित बाजी रे .. (2)
मंडलिक का अपमान किया गया।
उन्होंने मंडली का सम्मान किया
मुझे बताओ कि तुम उसे क्यों छोड़ दो..
दामोदर के गुनाला गाते हुए…
श्री दामोदर की स्तुति करने वाला व्यक्ति
दुखी नहीं होता।new hindi kavita

सदा शामालियो ने सनमुख के सामने आत्मसमर्पण कर दिया और उन्हें दामोदर की स्तुति गाते हुए
देखा …
सुख देने वाले की पूर्ण कृपा से
मुझे एक निश्चित पद प्राप्त हुआ है.. (2)

नरसयनस्वामी ए..जी.. भव भव सघलो भाम्यो रे को देखकर.. (2) दामोदर
के गुणगान गाते हुए…
दामोदर के गुण गाते
हुए नहीं देखा कोई उदास लोग
दामोदर के गुण गाते हुए… (2)
दामोदर का गुणगान करने वाला
कोई उदास आदमी नहीं है .. दामोदर
के गीत गाते हुए …
दामोदर के गुण गाते हुए.. (2)new hindi kavita

युगों बाद नज़र आएगा एक जाना-पहचाना चेहरा
मेरे दिल का ख्याल रखना! वो आ रहा है।
उसे गंभीरता कतई पसंद नहीं है
हे दिल आवारा बनो! वो आ रहा है।
समय से एक वसंत फूटेगा-शीला
नदी, प्रवाह को सिकोड़ो! वो आ रहा है।

पूनम की रात है और चाँद नहीं निकला?
सितारों की चिंता मत करो! वो आ रहा है।
एक पल के लिए आएगा और एक पल में चला जाएगा
इसे रोको पालकारा! वो आ रहा है।
पडर्वी को सुनते समय किसी को भी परेशान नहीं करना चाहिए
मारना बंद करो! वो आ रहा है।new hindi kavita

2022 new hindi kavita, सबसे अच्छी कविता प्रेम

सभी लोग नहीं मरते, कुछ को
जीवन से पीटा जाता है।
अमाथा बूढ़े की कमर से नहीं मुड़ती,
वह जमा आँसुओं का बोझ महसूस करती है।
शूरा भगवान से लड़ता है,
हमारी हार भाग्य में हार लगती है।

आज तक कोई चल नहीं पाया,
उसके सामने किस्मत की तलवार धारदार लगती है।
जब जीना मुश्किल हो जाता है,
मौत आसान हो जाती है, जीवन चुनौतीपूर्ण लगता है।
मौत तो बहुत चाहता है पर मिलता
नहीं, आने में कितनी बार लगता है।new hindi kavita

मैडी! तुम कितना कमा लेते हो?
-नंदरानी! आपके आंगन हैं जी…..जी
मुरारी कहते हैं मुक्ति माजी…
तारे हुकम है हाजी हाजी…
बापू अलो तारो बेतो रे…
माताजी! तरण मगन रे जी.. मैडी!…टेक
खड़ी अंजान महिला, लखमी लोभानी…;(2)
उसे प्यार से तेरा पानी भरना है… रे माताजी0 1
करों में कुलदी लेने के लिए खड़ी हुई इंद्राणी…;(2)
ब्राह्मणी राय दूध के लिए भीख मांगना चाहती हैं… माताजी0 2
जिसके मोह में लिपटी है दुनिया; (2)
आपका कर्ज एक रस्सी से बंधा है…माँ 3
बेठी जग जग मैडी! तुमने किताबें बाँध दीं, (2)
(आज) तुम्हारे सारे पति खो गए…माँ 0 4
तेरी तख्तियों में “काग’ बजता है (2)
तुम कदमों पर कदम रखते हो, मैं कोई पन्ना नहीं…माँ 0 5

new hindi kavita, सबसे अच्छी कविता प्रेम 2022

अरे… कर्मनो संगती राणा मेरे लिए कोई नहीं…
अरे… कर्मनो सांगा के अलावा कोई भगवान नहीं है …
या उन्होंने अलग-अलग लेख लिखे (2) … कर्मनो संग से …

एक गाय, दो बछड़ों
ने अलग-अलग लेख लिखे
, एक शिवजी की पोथी बनी, दूसरी बनी घंचीदान घर
… कर्मनो संग।new hindi kavita

माँ के दो पुत्रों में से एक
ने अलग-अलग लेख लिखे
, उनमें से एक ने सिर पर छत टाँग दी,
दूसरे ने बेच दिया और कुछ भारी खा लिया… कर्मनो संगति।
मिट्टी का एक टुकड़ा, मिट्टी के दो टुकड़े,
अलग-अलग लेख लिखे गए , उनमें से एक शिवजी का मैल
है, दूसरे
को जमीन पर रखा गया है।… कर्मनो संगति
पत्थर के एक या दो टुकड़े,
उस पर अलग-अलग लेख लिखे गए,
एक प्रभुजी की मूर्ति बन गई,
दूसरे को वॉशिंग मशीन बना दिया गया …

कर्मनो संगति।
लताओं के कुछ टुकड़े,
या उन पर लिखे अलग-अलग लेख,
एक टुकड़ा साधुजी के हाथ में,
दूसरा एलोवेरा का टुकड़ा… कर्मनो संगति।
एक रे वंशनी दो दो वंशली,
के ने इसके अलग-अलग लेख लिखे,
कांजी कुंवर के एक रे वंशली,
दूसरी बार वडिदा से घेर… कर्मनो संगती।
एक रे मां के दो दो चमगादड़,
अलग-अलग लेख लिखे,
एक रे बेतो चोराशी धुनी टेप,
दूसरी लच्छोराशी महन्या… कर्मनो संगति
रोहिदास चरण मीराबाई बोली,
कि देजो हम संचरने वास…new hindi kavita

new kavita, सबसे अच्छी कविता प्रेम

अब तुम इस खाली पेट का बोझ महसूस करती हो ना?
वो लात जो पेट पर मीठी लगती हैं
, आँखों से परे मार रही हैं, है ना?

तुझमें उगी नन्ही बेल ने
पहले सहारा दिया,
मैं ही वो जान हूँ जो तुझमें साँस लेती है,
ये जानने के बाद कि मैं ही वो ज़िंदगी हूँ जो तुझमें साँस लेती है, क्या तेरा पेट भारी हुआ?
आईने के सामने देखते हुए, अब तुम उससे दूर भाग रहे हो, है ना?

आप कैसे हैं, सबसे पहले,
बच्चे के लिए प्रार्थना करें, जब आपको पता चले
कि आपके गर्भ में कोई बेटा नहीं है ,
भगवान से कहो, इसे रखो!
खून का अचानक दिखना अब बहुत पछताता है, है न?

कहाँ था हमारा रिश्ता जिसे हम तोड़ कर रोना चाहते थे ?
तेरे जीवन की शाम
लाल हो गई है, आसमान का रंग लाल है!
एक परी की तरह गुड़िया को चूमने का एहसास अभी भी है, है ना?

बेटी सर्प का बोझ नहीं,
बेटी तुलसी की गठरी होती है, बेटी बिना बेटी के
उजाला होती है, बेटी के बिना अंधेरा होता है,
पिता की रोशनी होती है, बेटी होती है, आंख होती है ,
सपना होता है, बेटी होती है मां का सपना, बेटी, मां की उड़ान ,
बेटी के बिना बाप केहैअपंग जाए तो बेटी का दिल छू जाएगा,
मां-बेटी-बहन नहीं पड़ेंगे उसके साथ प्यार एक बेटी के बिना एक घर बिना घंटी के झांझ की तरह है,
और यह बेटी के बिना एक सुंदर घर जैसा लगता है ।new hindi kavita

बेटा बुढापा में रखे तो बेटी नंगेपन
का भ्रम बहाएगी, आंसू बहाएगी, बेटी के पैदा होते ही सृष्टि का
रुख पलट जाएगा । घर में रहने का पुराना विचार छोड़ो, बेटी को मत छोड़ो,
बेटी को दुख मत दो – दुहिता , विधाता की चिंता मत करो ,
ससुर भगवान के माता-पिता के बारे में है । new hindi kavita

kavita, सबसे अच्छी कविता प्रेम

प्रभुजी अपने दास का पत्ता रख दो..(2)
बाण का दर्द होगा तो.. (2)
तुम्हारा मंत्र कौन गाएगा…
अपने नौकर की चिट्ठी रख लो ..
प्रभुजी अपने नौकर की चिट्ठी रख लो..
रोहिदास की तुम रबादी पीठी नाव जोही नात के जात..

अरे… नाव जोही नात के जात..
रोहिदास की तुम रबादी पीठी नाव जोही नात के जात
.. (2)
आप क्यों सामना कर रहे हैं …
क्यों … इसका सामना करें ..
नई केवाना नाथो
नई कवाना नाथ..new hindi kavita

बाण का अक्षर रखो
प्रभु, बाण का अक्षर रखो…
बाण को कष्ट होगा तो
आपका मंत्र कौन गाएगा ..
अपनी रुचि का ध्यान रखें…
प्रह्लाद तुम हो… थंब में नियमों का पालन कर पूरा किया प्रवास..

प्रभुजी खम्भे में रुके…
सच्ची कला तू ने ठिठुरते हुए कहा..
सच्ची कला तू…. ठंडा
सुधन वा ने काज .. (2)
केले का पत्ता रखो..
भगवान, केले का पत्ता रखो…
बाण को कष्ट होगा तो
आपका मंत्र कौन गाएगा ..
केले का पत्ता रखो..
भगवान, केले का पत्ता रखो…
अरे… आप पांचाली के परिवार से हैं
पांचाली
बैठक में आप पर शर्म आती है।
अरे.. राखी सभा पर शर्म आती है..
शायर.से उड़ता रहा… अरे… जी…
.शायर से…
शायर से, बुद्दो रखा..
राम कहते हैं गजराज…
राम कहते हैं गजराज…
केले का पत्ता रखो..
भगवान, केले का पत्ता रखो…
बाना के लिए दर्द होता है तो..
बाना के लिए..new hindi kavita

अरे … अगर आपको चोट लगी है, तो
आपके मंत्रों का जाप कौन करेगा..
दास की चिट्ठी रख
लो प्रभु, दास की चिट्ठी रख लो…
उसने कहा इसका अमृत जहर था..
मीरा का हाथ दे दिया..
उसने जहर खाकर
मीरा को अमृत दे दिया।
वह मेहता को पीटने आया था।
मेहता मंडलिक…
जब मारवां आया..
केदारो आधी रात ले आए..
बना नी पाट ऐश ..
परभुजी तारा, बना नी पाट ऐश…
भक्तों, जब संकट से हार गए..
आस्था प्रबल हुई..
प्रभुजी, विश्वास मजबूत है..new hindi kavita

new hindi सबसे अच्छी कविता प्रेम

नरसिम्हा कर जोड़ी
ए के स्वामी को बताएं… जी.. पुरु अंतर ऐश ..
केले का पत्ता रखो..
भगवान, केले का पत्ता रखो…
प्रभु जी, अपना दिल रखिये..

सभी लोग नहीं मरते, कुछ को
जीवन से पीटा जाता है।
अमाथा बूढ़े की कमर से नहीं मुड़ती,
वह जमा आँसुओं का बोझ महसूस करती है।
शूरा भगवान से लड़ता है,
हमारी हार भाग्य में हार लगती है।new hindi kavita

आज तक कोई चल नहीं पाया,
उसके सामने किस्मत की तलवार धारदार लगती है।
जब जीना मुश्किल हो जाता है,
मौत आसान हो जाती है, जीवन चुनौतीपूर्ण लगता है।
मौत तो बहुत चाहता है पर मिलता
नहीं, कितनी बार आता है।new hindi kavita

sad wallpaper shayari

मेरे दोस्त, तुम मेरी पतंग हो और मैं तार नहीं
काटता।
अगर तुम जाओ, अम्बर पहनो और
मेरी किरण में शामिल हो
, तो तुम्हारे पास पतंग का रंग होगा, गुलाबी, और
मेरी किरण का रंग अनोखा है।
मुझे आपका रूप मेरा पसंदीदा लगा और
“मैं” आप से अद्वितीय हो गया। आप मेरे सिर पर लटके “मंजो” के लिए
अतुलनीय हैं । आप उड़ते और उड़ते हुए एक अनंत आभा छोड़ते हैं, “संग” आप अद्वितीय हैं।

मत पूछो, मेरे ख्वाबों का पता मत दिखाओगे;
यदि आप नहीं कहते हैं, तो आप अपने सपनों में नहीं आएंगे।

तुम मुझे भूलने की कोशिश करते रहते हो;
करते रहो, मुझे पता है, तुम कभी नहीं रुकोगे।

मुझे याद है जब मैंने तुम्हें हँसते हुए मार डाला था;
मैं तुम्हारी आँखों को आँसुओं से नहीं सजाऊँगा।

अगर तुम मुझे घाव दोगे, तो मैं उन्हें पसंद करने लगा हूँ;
कोई मरहम न लगाएं।new hindi kavita

तौभी तू ने अपके मन की शहरपनाह पर मेरा नाम न लिखा;
तुम वहाँ कभी किसी त्राहिट का नाम नहीं लिखोगे।
आपने मयंक की हर बात को भली-भांति समझ लिया।
आप जो समझते हैं उसे आप कभी किसी को नहीं समझाएंगे

2022 kavita, सबसे अच्छी कविता प्रेम

आप देकर पंख लगाइए
साहब! हमें पंख दो और हम आएंगे…
हमने रेत को नीचे दबाया और कटोरी में भरकर
आम की
कली से हिलाया।
कृपया दें और समर्थन करें,
सर! अगर आप नाटो को देंगे तो हम आएंगे…
कागज की काली रेत धुल जाती है
और लिखावट लू में रह जाती है;
अगर उंगली पिघल जाए और अटकल बन जाए,
तो हम लिख दें तो क्या?
आप आंसू बहाओ
साहब! आँखे दो, हम आ जायेंगे…

कभी हरी-सूखी जलेगी, कभी
आंखें नजरें मिलेंगी।
दिल की छत टूट जाती है,
कभी तो आंखों में पानी आ जाएगा।
पलव तेरा लाल कसुम्बल,
कभी जलेगा।
हथेली की रेखा का अकथनीय दर्द ,
कुछ नजुमी कभी-कभी महसूस होगी।
मेरी कामयाबी का दिन भी
कभी-कभी शाम हो जाएगा।
विनोद नागदिया (खुशी)

2 thoughts on “new hindi kavita,2022, सबसे अच्छी कविता प्रेम”

Leave a Comment